गुरुवार, 21 फ़रवरी 2019

wonderful health benefits of spinach


पालक और हमारा स्वास्थ :

हरी सब्जियों में पालक की अपनी विशेषता है | इसका कारण यह भी हो सकता है कि इसमें विटामिन सी (Vitamin-c) भरपूर मात्रा में पाया जाता है | दूसरा कारण यह भी हो सकता है कि यह बहुत जल्द हजम हो जाता है |
 वैसे तो पालक में विटामिन ए,बी,सी तीनों ही पाए जाते हैं जिनसे हमारे शरीर को लोहा और कैल्शियम जैसे अनेक पदार्थ मिलते हैं जिनके सहारे हम अपने शरीर को स्वस्थ रख सकते है |

 Spinach and Spinach Juice


हमारा शरीर और पाचन शक्ति :

  हमारे शरीर के अंदर पेट पाचन शक्ति का सबसे बड़ा केंद्र है, और उससे भी बड़ा केंद्र है हमारी आतें  जो सारा पाचन कार्य चलाती हैं , क्योंकि यह दिन रात चलती हैं और अपना कार्य उस समय तक चालू रखती हैं, जब तक मानव जीवन चलता है |
 परंतु आज हम लोग यह सब नहीं सोचते हमें इन बातों को सोचने का समय कहां है, हम तो यह भी नहीं जानते कि प्रकृति ने हमें जो जीवन दिया है, उसका तो कुछ भी मूल्य नहीं लिया यह सब कुछ जल ,वायु,अन्न जो इस धरती माँ से मिलता है , यह सब ईश्वर की ही देन है | और इसी अन्न को हम जीवन रक्षक मानते है |
   जिससे हमारा पेट पाचन शक्ति से हमारे शरीर के अंदर रक्त पैदा करता है यही रक्त हमारे जीवन की  गाड़ी का इंजन है परंतु कभी-कभी तो दिन-रात चलने वाली इस गाड़ी की सफाई की जरूरत पड़ जाती है |
 हमारे शरीर की  सफाई के लिए ही प्रकृति ने अनेक साग-सब्जियों ,जड़ी-बूटियों को धरती पर पैदा किया है , उन सब में से पालक भी एक ऐसी ही सब्जी है जिससे हमारे शरीर को शक्ति मिलती है और पालक का रस सफाई करके , पोषण करता है , कच्चे पालक के रस में प्रकृति ने हर प्रकार के  शुध्दिकारक तत्व रखे हैं |
 पालक संक्रामक रोग तथा विषाक्त कीटाणुओं से उत्पन्न रोगों से रक्षा करता है , पालक में पाए जाने वाले विटामिन ( ए )श्लेष्मा झिल्ली (mucous membranes) की सुरक्षा के लिए उपयोगी हैं |

फेफड़ो की जलन और खांसी :

जिन लोगों को पुरानी खांसी के कारण रात को नींद नहीं आती ,फेफड़ो में दर्द होता हो | तो उन्हें पालक के रस के कुल्ले करके थोडा सा रस शहद में मिलाकर सोने से पहले पीना चाहिए ऐसा करने से तुरंत लाभ होता है |

खून की कमी के लिए :

खून की कमी के कारण ही शारीरिक कमजोरी आती है | और इससे कई रोग हमारे शरीर में उत्पन्न होते है | इसलिए हर प्राणी को इस ओर पहले ध्यान देना चाहिए की खून की कमी को दूर करने के लिए पालक बहुत उपयोगी है |
खून की कमी को दूर करने के लिए पालक सबसे अधिक लाभदायक सिद्ध हुआ है अब आपको इसका  प्रयोग कैसे करना है ?
पालक का रस प्रतिदिन कम से कम  3 बार ले 
मात्रा एक बार  125 ग्राम
 यदि किसी कारणवश यह रस आपको कड़वा लगे और पीने में कुछ कठिनाई आती हो तो इसमें थोड़ा सा गुलाब या संदल का शरबत मिला लें | बच्चों के लिए उनकी आयु को देख कर ही खुराक कम करें |

लाभ :

इसके सेवन से आपके शरीर के विकार दूर होकर शरीर में नये खून का संचार होगा | शरीर में चुस्ती, फुर्ती और उत्साह के साथ हर काम को अपने आप करने का मन करेगा यही आपकी सफलता का रहस्य है |

खून साफ करने के लिए :

  हम अपने शरीर में खून की मात्रा बढ़ाने के साथ-साथ खून की सफाई पर भी ध्यान दें तो ही हमारे शरीर को  स्वस्थ लाभ मिल सकते हैं  |
 पालक के पत्तो को बारीक काटकर मुंग की दाल के साथ पकाकर उसकी सब्जी बनाकर खाने से खून साफ़ हो जायेगा 

दांत रोगों एवं पायरिया के लिए :

पालक का रस दांतों और मसूड़ों को मजबूत बनाता है | पायरिया के रोगियों को कच्चा पालक चबा-चबा कर खाना चाहिए सुबह उठकर पालक के रस का सेवन करने से पायरिया जड़ से चला जाता है|

आँखों एवं नज़र के लिए :

जिन लोगों की नजर कमजोर हो चुकी है  वह सुबह उठकर तीन चम्मच पालक का रस ताजा निकाल कर पिए तो नजर तेज हो जाएगी |

पथरी :

कई लोग यह मानते हैं कि पालक को निरंतर खाने से पथरी रोग हो जाता है | यह उनकी सबसे बड़ी भूल है वरना सत्य तो यह है कि कच्चे पालक का रस निकालकर पीने से पथरी गलकर पेशाब द्वार से बाहर निकल जाती है | और पेशाब रोग समाप्त हो जाता है |

पाचन शक्ति :

कच्चे पालक का आधा गिलास जूस हर रोज सुबह के समय पीने वालों के पेट के सारे रोग दूर हो जाते हैं |    पालक के साथ बथुआ मिलाकर सब्जी बनाकर खाने से कब्ज रोग दूर हो जाता है |

गले का दर्द :

गले के दर्द के कारण जो लोग दुखी हों , उन रोगियों को पालक के पत्ते उबालकर उनमें से पानी छान ले  फिर उसे थोड़ा सा गर्म रखकर नमक मिलाकर उसके गरारे करने से गले का दर्द एक दिन में गायब हो जाएगा |

0 Comments:

एक टिप्पणी भेजें